Brands
YSTV
Discover
Events
Newsletter
More

Follow Us

twitterfacebookinstagramyoutube
Yourstory

Brands

Resources

Stories

General

In-Depth

Announcement

Reports

News

Funding

Startup Sectors

Women in tech

Sportstech

Agritech

E-Commerce

Education

Lifestyle

Entertainment

Art & Culture

Travel & Leisure

Curtain Raiser

Wine and Food

Videos

ADVERTISEMENT
Advertise with us

यूट्यूब चैनल से लेकर शार्क टैंक तक; एडटेक स्टार्टअप Competishun की कहानी

IIT-JEE और NEET की तैयारी कराने वाले Competishun की स्थापना 2019 में हुई थी. यूट्यूब चैनल से शुरु हुए Competishun ने शार्क टैंक इंडिया तक का सफर तय किया है. जयपुर का यह स्टार्टअप PhysicsWallah, Vedantu, Unacademy के साथ प्रतिस्पर्धा करता है.

एडटेक ने दुनिया भर में एजुकेशन को एक नए आयाम पर ला खड़ा किया है. एक रिपोर्ट के अनुसार, 6 अरब डॉलर के मार्केट साइज के साथ भारत ई-लर्निंग के लिए अमेरिका के बाद दूसरा सबसे बड़ा बाजार है, और 2025 तक इसके 10 अरब डॉलर तक बढ़ने की उम्मीद है.

हालांकि, अब इस सेक्टर में कॉम्पिटिशन भी तगड़ा है, लेकिन स्टार्टअप Competishun अपनी पहचान बनाने में कामयाब रहा है. जयपुर स्थित यह स्टार्टअप Physics Wallah, Vedantu, Unacademy जैसे स्टार्टअप्स के साथ प्रतिस्पर्धा करता है.

IIT-JEE और NEET की तैयारी कराने वाले Competishun की स्थापना 2019 में मोहित त्यागी (Mohit Tyagi) ने की थी. वे IIT दिल्ली के पूर्व छात्र रह चुके हैं. आलोक कुमार (Alok Kumar), अमित बिजारनिया (Amit Bijarnia) और नीरज सैनी (Neeraj Saini) Competishun के को-फाउंडर और डायरेक्टर हैं.

यूट्यूब चैनल से शुरु हुए Competishun ने शार्क टैंक इंडिया [सीजन 3] तक का सफर तय किया है.

YourStory से बात करते हुए Competishun के फाउंडर और डायरेक्टर मोहित त्यागी कहते हैं, “हमारा मकसद बहुत सस्ती कीमत पर ऑनलाइन शिक्षा के माध्यम से छात्रों को घरेलू आरामदायक वातावरण प्रदान करना है.”

Competishun के बिजनेस मॉडल के बारे में समझाते हुए मोहित [त्यागी] कहते हैं, “Competishun हाइब्रिड बिजनेस मॉडल पर काम करता है. यानि कि परीक्षा की तैयारी से जुड़े समाधान मुहैया करने के लिए यह — ऑफलाइन और ऑनलाइन — दोनों मोड पर काम करता है. हमने लचीलेपन और पहुंच की पेशकश करते हुए अपने छात्रों की विविध आवश्यकताओं को पूरा करने के लिए इस मॉडल को चुना. स्ट्रक्चर्ड कोचिंग प्रोग्राम, स्टडी मैटेरियल, ऑनलाइन क्लासेज और व्यक्तिगत सहायता मुहैया करके, हम यह सुनिश्चित करते हैं कि प्रत्येक छात्र को प्रतिस्पर्धी परीक्षाओं में उत्कृष्टता प्राप्त करने के लिए अनुरूप मार्गदर्शन प्राप्त हो. यह दृष्टिकोण हमें भौगोलिक रूप से व्यापक दर्शकों तक पहुंचने और शिक्षा क्षेत्र की उभरती मांगों के अनुरूप ढलने में सक्षम बनाता है, जिससे अंततः छात्रों की सफलता और संतुष्टि अधिकतम होती है.”

Competishun_Edtech

वे आगे बताते हैं, “Competishun में, हम घर की सुविधा को ऑनलाइन शिक्षा में लाकर परीक्षा की तैयारी कराने में क्रांति ला रहे हैं. IIT-JEE और NEET परीक्षाओं के लिए हमारी अनुरूप कोचिंग एक परिचित वातावरण में, किफायती लागत पर प्रभावी शिक्षा सुनिश्चित करती है. हम समझते हैं कि प्रत्येक छात्र अद्वितीय है, इसलिए हम व्यक्तिगत आवश्यकताओं और प्रदर्शन के आधार पर कस्टमाइज्ड ऑनलाइन बैच तैयार करते हैं. हमारे संदेह समाधान काउंटर और व्हाट्सएप और कॉल के माध्यम से 24/7 समर्थन के साथ, छात्र जब भी आवश्यकता हो, व्यक्तिगत ध्यान और सहायता प्राप्त कर सकते हैं. लाइव ज़ूम सेशन और टेलीग्राम डाउट ग्रुप्स के माध्यम से, छात्र एक सहायक शिक्षण समुदाय को बढ़ावा देते हुए, अनुभवी संकाय और साथी साथियों के साथ जुड़ सकते हैं. हमारा व्हाट्सएप चैट सपोर्ट यह सुनिश्चित करता है कि छात्र अपनी शैक्षणिक यात्रा के दौरान समर्थित और प्रेरित महसूस करें.”

अब तक, Competishun पूरी तरह से बूटस्ट्रैप्ड स्टार्टअप है, यानि कि इसने कोई बाहरी फंडिंग नहीं जुटाई है.

इस बिजनेस को खड़ा करने में किन चुनौतियों का सामना करना पड़ा? इस सवाल के जवाब में फाउंडर कहते हैं, “Competishun की शुरुआत में हमें जिन प्राथमिक कठिनाइयों का सामना करना पड़ा, उनमें से एक प्रतिस्पर्धियों द्वारा अनैतिक प्रथाओं से निपटना था, खासकर ऑनलाइन सेक्टर में. इन प्रथाओं के कारण अक्सर समग्र रूप से ऑनलाइन एजुकेशन प्लेटफार्मों की प्रभावशीलता में माता-पिता के बीच विश्वास की हानि होती है. हालाँकि, हम उत्कृष्टता और पारदर्शिता के प्रति अपनी प्रतिबद्धता पर दृढ़ रहे, अंततः इस मिथक को खारिज कर दिया कि ऑनलाइन प्लेटफॉर्म परिणाम नहीं दे सकते. अपने छात्रों को उच्च गुणवत्ता वाली शिक्षा और वास्तविक समर्थन प्रदान करने के प्रति समर्पण के माध्यम से, हमने इन चुनौतियों को सफलतापूर्वक पार कर लिया है.”

Competishun

Competishun की टीम

एडटेक स्टार्टअप का रेवेन्यू मॉडल मुख्य रूप से ऑनलाइन और ऑफलाइन दोनों पाठ्यक्रमों के लिए IIT-JEE और NEET के लिए प्रीमियम कंटेंट और सेवाओं तक पहुंचने के लिए छात्रों द्वारा भुगतान की गई पाठ्यक्रम फीस पर निर्भर करता है.

डायरेक्टर मोहित [त्यागी] का दावा है कि वित्त वर्ष 2023-24 में Competishun ने 12 करोड़ रुपये का रेवेन्यू हासिल किया है. वे वित्तीय वर्ष 2024-25 के लिए, 25 करोड़ रुपये के रेवेन्यू के साथ महत्वपूर्ण वृद्धि की आशा करते हैं.

अंत में, Competishun को लेकर भविष्य की योजनाओं पर बात करते हुए मोहित कहते हैं, “वर्तमान में हमारे प्लेटफॉर्म के पास लगभग 20,000 सशुल्क ग्राहक हैं. आने वाले समय में हम इनोवेशन जारी रखते हुए छात्रों की जरुरतों के मुताबिक नए कोर्स और सेवाओं के साथ ग्राहक आधार का विस्तार करेंगे.”

यह भी पढ़ें
पिता से 25 लाख रुपये लेकर शुरु किया ‘मेड इन इंडिया’ मोबाइल ब्रांड; आज हर महीने 45 लाख की कमाई